मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के दिल्‍ली दौरे का दूसरा दिन, आज केंद्रीय मंत्री गडकरी से करेंगे मुलाकात

India Politics Uttarakhand

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी रविवार को तीन दिनी दौरे पर नई दिल्ली पहुंच गए। वह सोमवार को केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से भेंट करेंगे। इस दौरान वह केंद्रीय सड़क एवं राजमार्ग मंत्रालय द्वारा प्रदेश में चलाए जा रहे राष्ट्रीय राजमार्गों के कार्यों के साथ ही रोप वे व टनल के प्रस्तावित कार्यों पर चर्चा करेंगे। मंगलवार को मुख्यमंत्री भाजपा की सांगठनिक बैठक में शामिल होंगे।
नई दिल्ली में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि उन्होंने सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी से समय लिया है। इस मुलाकात के दौरान वह पुराने कार्यों के साथ ही सेंट्रल रिजर्व रोड के कार्यों की स्वीकृति का अनुरोध करेंगे। इसके अलावा नई योजनाओं के प्रस्ताव भी देंगे।
उन्होंने कहा कि वह दिल्ली प्रवास के दौरान पार्टी की नियमित रूप से सांसदों व संगठन के साथ होने वाली बैठक में भी मंगलवार को शामिल होंगे। मंत्रिमंडल विस्तार के संबंध में पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार की बैठक केवल विकास के बिंदुओं पर केंद्रित रहेंगी।

आपदा से निबटने को हर प्रयास, हरिद्वार का बड़ा क्षेत्र आपदाग्रस्त:
प्रदेश में भारी वर्षा के कारण आपदा की स्थिति के संबंध में पूछे गए सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में इस वर्ष बरसात में बाढ़ व आपदा की स्थिति है। इस संबंध में पहले ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह को अवगत करा दिया गया है। इस विषम परिस्थिति के कारण प्रभावित होने वाले व्यक्तियों को सरकार आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध करा रही है।
बिजली, पानी, पीएमजीएसवाई की सड़कें, नेशनल हाईवे, मरीजों का उपचार, चारधाम आने वाले यात्रियों के लिए जरूरी इंतजाम सुनिश्चित किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरिद्वार के जिले के खानपुर, लक्सर, नारसन ब्लाक समेत बड़े क्षेत्र में जलभराव के कारण नुकसान हुआ है। लगभग 21 हजार हेक्टेयर क्षेत्र प्रभावित हुआ है। इसे आपदाग्रस्त घोषित करने का निर्णय लिया गया है। प्रभावित क्षेत्र में बिजली के बिल और बैंकों की किस्तें तीन माह के लिए स्थगित करने को कहा गया है।

अपराधमुक्त व भ्रष्टाचारमुक्त उत्तराखंड सरकार का संकल्प:
एक अन्य सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार अपराधमुक्त व भ्रष्टाचारमुक्त उत्तराखंड के संकल्प पर लगातार काम कर रही है। प्रदेश में भ्रष्टाचार को लेकर कड़ी कार्रवाई की जा रही है। भर्ती परीक्षाओं में नकल कराने के लिए होने वाले भ्रष्टाचार पर रोक को कदम उठाए गए हैं।
80 से अधिक गिरफ्तारी की गई हैं। सख्त नकलरोधी कानून बनाया गया है। समान नागरिक संहिता से जुड़े सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि विशेषज्ञ समिति इसके ड्राफ्ट पर काम कर रही है। यह जल्द प्रदेश सरकार को मिल जाएगा।