कांग्रेस ने रावत पर फिर जताया भरोसा, स्थायी आमंत्रित सदस्य के तौर पर कार्यसमिति में मिली जगह

India Politics Uttarakhand

कांग्रेस कार्यसमिति में इस बार उत्तराखंड का प्रतिनिधित्व बढ़ाया गया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को स्थायी आमंत्रित सदस्य और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल को विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप कांग्रेस कार्यसमिति में जगह दी है।
उत्तराखंड का प्रभारी होने के नाते देवेंद्र यादव भी कार्यसमिति में शामिल हैं। इससे एक बार फिर साबित हो गया कि पार्टी आलाकमान पर अब भी हरीश रावत की मजबूत पकड़ बनी हुई है। महत्वपूर्ण यह कि गणेश गोदियाल को भी हरीश रावत खेमे का ही माना जाता है।

प्रदेश में कांग्रेस का प्रमुख स्तंभ रहे हैं रावत
प्रदेश कांग्रेस में इस समय भले ही सतह पर पर सब कुछ ठीक दिखाने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन अंदरखाने ऐसा है नहीं। कांग्रेस में इस समय कई धड़े बने हुए हैं। हरीश रावत लंबे समय से प्रदेश में कांग्रेस का प्रमुख स्तंभ रहे हैं। उनके राजनीतिक अनुभव को तरजीह देते हुए आलाकमान ने उन पर भरोसा कायम रख स्थायी आमंत्रित सदस्य के रूप में कांग्रेस कार्यसमिति में शामिल किया है।

गणेश गोदियाल भी कार्यसमिति में जगह बनाने में सफल
इस बार विशेष यह है कि पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल भी कार्यसमिति में जगह बनाने में सफल हुए हैं। गणेश गोदियाल का कद कांग्रेस में पिछले कुछ समय से लगातार बढ़ रहा है। उन्हें कुछ समय पूर्व ही राजस्थान में पार्टी ने स्क्रीनिंग समिति का सदस्य भी नियुक्त किया है।
गोदियाल को कार्यसमिति में शामिल कर कांग्रेस ने उत्तराखंड में क्षेत्रीय संतुलन साधने का प्रयास किया है। पिछली कार्यसमिति में उत्तराखंड से केवल हरीश रावत शामिल थे, जो कुमाऊं मंडल से आते हैं। इस बार कांग्रेस ने गोदियाल के रूप में गढ़वाल को भी कार्यसमिति में प्रतिनिधित्व दिया है।