ड्यूटी से गायब चालकों पर परिवहन निगम ने की ये बड़ी कार्रवाई, छह माह के लिए लागू किया एस्मा

Social Media Viral Uttarakhand

रोडवेज बसों के चालकों के ड्यूटी से गायब रहने पर प्रबंधन सख्त हो गया है। एक और दो जनवरी को अनुपस्थित रहे चालकों की सूची तलब कर परिवहन निगम प्रबंधन ने अवकाश पर रोक लगा दी है। साथ ही अनुपस्थिति रहने वाले चालक-परिचालकों की इस दौरान सर्विस ब्रेक लगा दी गई है। निजी वाहन चालकों की हड़ताल के बीच रोडवेज के महाप्रबंधक (संचालन) दीपक जैन ने निगम के चालकों के लिए आदेश जारी किए हैं। जिसमें बीते 22 दिसंबर से छह माह के लिए एस्मा लागू होने और हड़ताल रोक होने की बात कही गई है।

अनुपस्थित रहे चालकों की जारी होगी सूची
जबकि, देशभर में चल रही निजी वाहन चालकों की हड़ताल में रोडवेज के बस चालकों व परिचालकों के शामिल होने की भी सूचना मिल रही है। इससे यात्रियों को असुविधा के साथ निगम को राजस्व हानि हो रही है। ऐसे में उन्होंने सभी डिपो के अधिकारियों को निर्देशित किया कि एक और दो जनवरी को अनुपस्थित रहे चालकों की सूची मुख्यालय को उपलब्ध कराई जाए। साथ ही निर्देश दिए कि निर्धारित रूटों पर बस उपलब्ध न कराने वाले अनुबंधित बस स्वामियों के विरुद्ध नियम और अनुबंध की शर्तों के अनुसार कार्रवाई की जाए। निगम की बसों के संचालन में किसी बाहरी व्यक्ति की ओर से बाधा उत्पन्न की जाती है, तो पुलिस से सहयोग लिया जाए और संचालन जारी रखा जाए।